ट्रांसपोर्ट से 80 हजार इंजेक्शनों का जखीरा जब्त

798
Medicine Injection
Picture: Pixabay

Last Updated on December 17, 2019 by The Health Master

ग्वालियर। ट्रांसपोर्ट नगर में आकस्मिक कार्रवाई के दौरान 8 कार्टन में भरे 80 हजार इंजेक्शनों का जखीरा जब्त किया गया है। इंजेक्शन का यह जखीरा बिहार से ग्वालियर लाया गया था। इसकी डिलिवरी किसको देनी है, यह ट्रांसपोर्टर ने प्रशासनिक टीम को मौके पर नहीं बताया। जब्त इंजेक्शन बिहार के गया जिले के मानपुर, बुनियादगंज में स्थित आनंद फार्मास्युटिकल्स में बने हैं।


जानकारी अनुसार तहसीलदार को फोन पर सूचना मिली थी कि ट्रेन से बड़ी मात्रा में ऑक्सीटोसिन इंजेक्शन की खेप ग्वालियर लाई गई है। यह खेप ट्रांसपोर्ट नगर स्थित बाबा देवपुरी ट्रांसपोर्ट पर रखी है। इस सूचना के बाद तहसीलदार ने राजस्व अमले को रैकी करने भेजा। विभागीय कर्मियों ने ट्रांसपोर्ट पर काम करने वाले कर्मचारियों सहित आसपास पूछताछ की।

पुख्ता होने पर दवा निरीक्षकों को साथ लेकर तहसीलदार मौके पर पहुंचे और सीधे बताई गई जगह पर जाकर कार्टून चेक करना शुरू कर दिए। कुछ कार्टून दूसरे सामान के रखे थे। इनके पीछे इंजेक्शनों से भरे कार्टून निकले। इस खेप को लेकर जब ट्रांसपोर्टर अखिलेश कंसाना से अधिकारियों ने पूछा तो उन्होंने इसको भेजने की जगह पता होने से अनभिज्ञता जताते हुए कहा कि इसकी डिलिवरी लेने के लिए कोई आने वाला है, जब वह आएगा तो बता देंगे।


सूत्रों का कहना है कि बिहार से लाए जाने वाले यह इंजेक्शन ग्वालियर के अलावा मुरैना, धौलपुर, शिवपुरी, गुना, अशोकनगर जिलों के गांवों में सप्लाई किया जा रहा है। इन क्षेत्रों में बड़ी मात्रा में खपाकर इस व्यवसाय में लिप्त लोग हर महीने लाखों का व्यापार कर रहे हैं। इसके साथ ही यह भी पता चला है कि दूध आदि में मिलाए जाने वाले कैमिकल को लेकर लगभग तीन महीने पहले हुई कार्रवाई में भी ट्रांसपोर्ट नगर से कैमिकल के ड्रम पकड़े गए थे।