अवैध गोदामों पर छापा, लाखों की दवाइयां बरामद

Huge quantity of drugs found stocked at unlicensed go-downs

604
Medicine
Picture: Pixabay

Last Updated on December 17, 2019 by The Health Master

आगरा। औषधि विभाग की टीम ने स्थानीय कमला नगर और विजय नगर कॉलोनी में छापा मारकर दवाओं का जखीरा बरामद किया है। दोनों जगह घर में गोदाम बना रखे थे। बरामद दवाएं सील कर दी गई हैं। इनके सैंपल की जांच कराई जाएगी। विजय नगर कॉलोनी में एंटीबायोटिक इंजेक्शन अमिकासिन की री-फिलिंग और एक्सपाइरी डेट के इंजेक्शन के दोबारा इस्तेमाल की आशंका जाहिर की गई।

जानकारी अनुसार औषधि निरीक्षक जुनाब अली के नेतृत्व में एक टीम ने कमला नगर में सुशील कुमार के घर छापा मारा। घर में महिलाओं के विरोध करने पर टीम ने महिला पुलिस बुलाकर अंदर प्रवेश किया। घर के अंदर एक कमरे में करीब 25 लाख रुपये की एलोपैथिक और होम्योपैथिक दवाएं रखी हुई मिलीं। इसमें दर्द की टेबलेट, ट्यूब, सिरप और एंटीबायोटिक इंजेक्शन थे। इन पर टिनिस फार्मा लिखा हुआ था।

पूछने पर सुशील कुमार ने बताया कि फव्वारे पर उनका मेडिकल स्टोर है। घर पर दवाएं कैसे रखी हुईं हैं, इसका जवाब नहीं दे सके। वह कोई लाइसेंस भी नहीं दिखा पाए।

दूसरी टीम ने औषधि निरीक्षक राजकुमार शर्मा के नेतृत्व में रतनपुरा, विजय नगर कॉलोनी में प्रेम कुमार के घर छापा मारा। मकान मालिक घर पर नहीं मिले। घर में महिलाएं थीं, इसलिए महिला पुलिस के पहुंचने पर टीम ने घर के अंदर प्रवेश किया। रसोई में बाल्टी में पानी में करीब 1000 अमिकासिन (एंटीबायोटिक इंजेक्शन) व सीपीएम इंजेक्शन रखे हुए थे। करीब 1000 वाइल (सीसी) खाली मिलीं। टीम ने आशंका जताई कि एक्सपायरी दवाओं का लेबल हटाने के लिए उसे बाल्टी में रखा गया था। खाली वाइल में रिफिलिंग की आशंका जताई गई। यह जांच के बाद स्पष्ट हो पाएगा। रात तक कार्रवाई जारी रही।

औषधि विभाग की टीमों ने पूरी तैयारी से छापा मारा। फिरोजाबाद और मथुरा से भी औषधि निरीक्षकों को छापे में शामिल होने के लिए बुलाया गया था। बताया गया है कि कमला नगर और विजय नगर कॉलोनी में पकड़े गए दवाओं के जखीरे के तार आपस में जुड़े हुए हैं।

How to obtain Drugs license, Click here

विजय नगर कॉलोनी में घर में काम रही महिलाओं के अनुसार प्रेम कुमार कमला नगर के सुशील कुमार की दुकान पर काम करता है। औषधि विभाग के सहायक आयुक्त शिवशरम सिंह ने बताया कि मुखबिर से सूचना मिली कि दोनों जगह दवाओं के अवैध गोदाम हैं।

छापे में बिना लाइसेंस के घर पर दवाएं रखी गई थीं। इन्हें सील कर दिया है, सैंपल जांच के लिए लैब भेजे जाएंगे। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।