चार हुक्का बार से लिए तंबाकू के सैंपल फेल मिले

ड्रग कंट्रोल विभाग का कहना है कि शहर में जल्द ही बड़े स्तर पर तंबाकू पदार्थों की अवैध बिक्री व अवैध तौर पर चल रहे हुक्का बार के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।

454
FDA Haryana
FDA Haryana

रोहतक। शहर में चले रहे हुक्का बारों में खतरनाक केमिकल निकोटिन वाला तंबाकू इस्तेमाल करने का खुलासा हुआ है। साल 2019 में पुलिस ने शहर के 8 हुक्का बार पर रेड कर संदिग्ध नशीला तंबाकू बरामद किया था।

अब उसकी रिपोर्ट में पता चला है कि 8 में से चार हुक्का बार में जो फ्लेवर्ड तंबाकू युवाओं को सर्व किया जा रहा था, उसमें केमिकल निकोटीन की भारी मात्रा मिली है।

ड्रग कंट्रोल विभाग के अनुसार ये केमिकल निकोटिन जानलेवा स्तर का है।

वहीं, जिन 4 हुक्का बार के फ्लेवर्ड तंबाकू की रिपोर्ट में केमिकल निकोटिन मिला है, उनके खिलाफ ड्रग कंट्रोल विभाग ने कोटपा एक्ट, पॉयजन एक्ट व ड्रग एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है।

अब इन हुक्का बार के संचालकों के खिलाफ कार्रवाई होगी।

येँ भी पढ़ें : औषधि विभाग का 2 दवा कंपनियों पर छापा

गौरतलब है कि ड्रग कंट्रोल विभाग ने वर्ष 2019 में शहर के आठ स्थानों पर छापे मारे थे।

इनमें डी पार्क, शीला बाईपास, अशोका चौक, पुलिस लाइन के समीप, छोटूराम चौक, मेडिकल मोड़, गोहाना अड्डा, आर्य नगर में चोरी छिपे संचालित हो रहे हुक्का बार पर पुलिस टीम की मौजूदगी में ड्रग कंट्रोल विभाग की टीम ने वहां से बरामद तंबाकू के पैकेट सील किए थे।

बाद में इनके सैंपल लैब में भेजे गए।

अब छोटूराम चौक, आर्य नगर, अशोका चौक व पुलिस लाइन के समीप संचालित हुक्का बार से लिए गए सैंपल की लैब से आई रिपोर्ट में तंबाकू में निकोटिन केमिकल का अधिक मिश्रण पाया गया है।

मनदीप मान, औषधि नियंत्रक अधिकारी, ड्रग कंट्रोल विभाग, रोहतक का कहना है कि शहर में जल्द ही बड़े स्तर पर तंबाकू पदार्थों की अवैध बिक्री व अवैध तौर पर चल रहे हुक्का बार के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा।

येँ भी पढ़ें : 600 शीशी कफ सिरप के साथ महिला गिरफ्तार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here