FDA हरियाणा: मेडिकल स्टोर को सील कर नोटिस दिया

Medical store sealed by FDA Haryana, Notice has been given to the medical store

1665
FDA Haryana
FDA Haryana

सिरसा (हरियाणा)।  फूड एंड ड्रग्स एड्मिनिसट्रेशन हरियाणा (FDA) की सिरसा ड्रग विभाग की टीम ने बठिंडा रोड पर नशा मुक्ति केंद्र चला रहे दो निजी अस्पतालों में दबिश देकर उनके रिकॉर्ड की जांच की।

एक अस्पताल के रिकॉर्ड में अनियमितताएं पाए जाने पर अस्पताल प्रबंधन को नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया और उसके मेडिकल स्टोर को सील कर दिया है।

वहीं, दूसरे केंद्र में भी कुछ कमियां पाई गई। इसे भी नोटिस देकर जवाब तलब किया गया है।

इस संबंध में जिला ड्रग कंट्रोल आफिसर रजनीश धानीवाल ने बताया कि उच्चाधिकारियों को सूचना मिली थी कि नशा मुक्ति केंद्रों में इन दिनों कोरियर सर्विस के जरिए नशे की सप्लाई की जा रही है।

सूचना पर स्वास्थ्य विभाग ने एक टीम का गठन किया। टीम में सिरसा के डिप्टी सिविल सर्जन डॉ. रोहताश, मेडिकल ऑफिसर सुरेश पंवार और डॉ. विक्रम सोनी शामिल रहे।

येँ भी पढ़ें  : दवाओं की बेहतर निगरानी व्यवस्था के लिए सुगम पोर्टल

टीम कॉलोनी रोड पर स्थित मोंगा कोरियर सर्विस पर पहुंची, जहां उन्हें बुपरेक्स टेबलेट के दो डिब्बे बरामद हुए। ये बठिंडा रोड स्थित प्रेरणा मानसिक रोग अस्पताल एवं नशा मुक्ति केंद्र के थे।

इसके बाद टीम उक्त नशा केंद्र में पहुंची और जांच शुरू की। वहां अस्पताल प्रबंधन ने किसी तरह का रिकॉर्ड मेनटेन नहीं किया हुआ था।

इसके अलावा अस्पताल के अंदर चल रहे मेडिकल स्टोर बालाजी फार्मा का जब रिकॉर्ड चेक किया तो वह सेल-पर्चेज से संबंधित कोई रिकॉर्ड प्रस्तुत नहीं कर पाए।

अन्य रिकॉर्ड में भी कई अनियमितताएं पाई गई, जिसके चलते मेडिकल को सील कर दिया गया है। टीम के अनुसार अस्पताल प्रबंधन को सिविल सर्जन ने नोटिस जारी कर और मेडिकल संचालक को ड्रग विभाग ने नोटिस जारी कर आगामी विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी है।

इसके बाद टीम ने बंसल मानसिक रोग व नशा मुक्ति केंद्र और मेडिकल स्टोर की भी जांच की गई। जहां कुछ मामूली खामियां पाई गई हैं। उन्हें नोटिस जारी कर जवाब मांगा गया है।