बिना लाईसेंस नेल पॉलिश बनाने वाली दो फैक्ट्री पर रेड: FDA हरियाणा

FDA Haryana unearthed two cosmetics manufacturing factories, sealed, sample sent to Govt. Analyst

1031
FDA Haryana
FDA Haryana
2 min. read

खरखोदा। ड्रग्स एंड कॉस्मेटिक मुख्यालय एफडीए भवन पंचकूला को सूचना मिली की फ़िरोज़पुर बांगर, खरखोदा, सोनीपत क्षेत्र में अवैध रूप से बिना

नेल पॉलिश व अन्य उत्पादों का धड़ल्ले से उत्पादन किया जा रहा है जिसकी जांच हेतु एफ़डीए हरियाणा के कमिश्नर अशोक मीना ने जाच के आदेश दिये। जिस पर औषधि नियंत्रक नरेंद्र अहूजा ने सहायक राज्य औषधि नियंत्रक मनमोहन तनेजा को अभिलंब बारीकी से छानबीन हेतु मौके पर टीम सहित जाने की रणनीति को अंतिम रूप दिया

जिस की पालना करते हुए मनमोहन तनेजा ने राकेश दहिया सीनियर ड्रग्स कंट्रोल ऑफिसर रोहतक, गुरचरण सिंह सीनियर ड्रग्स कंट्रोल ऑफिसर , मनदीप मान ड्रग कंट्रोल ऑफिसर रोहतक व संदीप हुड्डा ड्रग कंट्रोल ऑफिसर सोनीपत की टीम ने मौके पर दबिश दी

Picture: Pixabay

सभी अधिकारी फैक्ट्री में मौजूद विशाल -भंडार तैयार व कच्चे माल को देखकर भौंचक्के रह गए कि इतनी बड़ी तादात में नेलपॉलिश का निर्माण हो रहा है ।

जब इस यूनिट का निर्माण लाईसेंस मांगा तो निर्माण कार्य मे लगे लोगों ने किसी भी अनुमति पत्र से अनभिज्ञता जताई ।मोके पर कई मशीनें खुले व सील ड्रम, कच्चे माल के कई कट्टे , एवं केनियाँ बरामद की । लाइसेंस न होने से यह काम अवैद्य की श्रेणी में आता है

येँ भी पढ़ें  : कोल्ड बेस्ट सीरप दवा कंपनी सील, लाइसेंस भी सस्पेंड

अतः सहायक राज्य औषधि नियंत्रक मनमोहन तनेजा ने अधिनस्त टीम को विभागीय कड़ी कार्यवाही करने के आदेश दिए । तनेजा ने बताया कि मोके की प्रत्येक पल की सूचना मुख्यालय में पहुंचाई जा रही है तथा कड़ी कार्यवाही के आदेश मिले है जिन्हें अमल में लाया जा रहा है ।


उल्लेखनीय है कि अवैद्य कार्य करने वालों की दबंगाई का आलम यह है कि विभाग से कॉस्मेटिक लाइसेंस तो नही लिया बोर्ड पर जी एस टी नंबर अवश्य लिख दिया भले ही वह ठीक हो या गलत यह तो जांच का विषय है । सूचना मिलते ही स्थानीय प्रशासन व कॉस्मेटिक व्यपारियों में इस अवैद्य कारोबार के बेपर्दा होने से सूचना तंत्र की पोल खोल कर रख दी।

टीम ने वहाँ पर माजूद सभी प्रकार की नेल पोलिश कचा माल के नमूने जांच पड़ताल के लिए चंडीगढ़ स्त्तिथ प्रोगशाला मे भेज दिये है। बाकी बचा सारे उत्पादो को सील कर दिया गया है। इन उत्पादो मे प्रयोग की जाने वाली मशीनों को भी विबाग द्वारा सील कर दिया गया है।

टीम ने कॉस्मेटिक उत्पादो के काछे माल के खरीद बिल व बिक्री रेकॉर्ड्स को अपने कब्जे मे ले लिया है। मनमोहन तनेजा ने बताया “इन सभी प्रकार के रेकॉर्ड्स की गहनता से जाच की जाएगी और तदनुसार आगामी कार्यवाही अमल मे लायी जाएगी”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here