मकान पर छापा, नकली सेनेटाइजर बनाने वाले दो भाई गिरफ्तार

Raid at house, two arrested manufacturing sanitizers without license

1162
Cosmetics Hand sanitizer

लखनऊ। कोरोना संक्रमण के डर के चलते बाजार में सेनेटाइजर और मास्क की कालाबाजारी करने वालों की पौ-बारह हो रही है। लखनऊ पुलिस और ड्रग्स विभाग ने महानगर से नकली सेनेटाइजर बनाने वाले दो भाइयों को गिरफ्तार किया है। इनके घर के अंदर से भारी मात्रा में नकली सेनेटाइजर की छोटी-बड़ी बोतलें, पैकिंग करने वाला रैपर, अन्य सामान व कच्चा माल बरामद हुआ है।

ये नकली सेनेटाइजर महानगर के निशातगंज के गली नंबर 6 के एक छोटे से घर में बनाया जा रहा था। असिस्टेंट कमिश्नर ड्रग्स और लखनऊ पुलिस टीम की छापेमारी के दौरान इस घर से भारी मात्रा में नकली सेनेटाइजर बरामद हुआ। नकली सेनेटाइजर के साथ ही, भारी मात्रा में कच्चा माल, पैकिंग होने वाली बोतलें, रैपर भी बरामद हुए हैं।

येँ भी पढ़ें  : दवा दुकानों पर छापामारी, 5400 मास्क जब्त

पुलिस ने इस मामले में नकली सेनेटाइजर बनाने वाले दो सगे भाई नीरज खरे और संजय खरे को गिरफ्तार कर लिया है।
कोरोना की वजह से जहां एक तरफ सेनेटाइजर और मास्क की डिमांड बढ़ी है, तो वहीं दूसरी तरफ जमाखोरों और मिलावटखोरों पर नकेल कसने के लिए जिला प्रशासन और पुलिस लगातार मेडिसिन मार्केट में जाकर छापेमारी शुरू कर दी है।

बीते कई दिनों से अमीनाबाद के मेडिसिन मार्केट में दुकानदारों से मिलकर उन्हें सचेत भी किया गया। लखनऊ के साथ-साथ आसपास के जिलों में भी ड्रग्स विभाग की टीम छापेमारी कर रही है और पुलिस एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई कर रही है।