मास्क व सेनेटाइजरों की कालाबाजारी की सूचना पर मेडिकल स्टोरों पर रेड

Raids at medical stores on the information of black marketing of masks and sanitizers

1052
Mask Pollution coronavirus Swine flu
Picture: Pixabay

हापुड़। मास्क व सेनेटाइजरों की कालाबाजारी की सूचना पर एसडीएम ने कई मेडिकल स्टोरों पर छापामारी की। प्रशासन की रेड से दवा दुकानदारों में हडक़ंप मचा रहा। गौरतलब है कि कोरोना वायरस को लेकर मास्क और सेनेटाइजर की मांग बढ़ गई है।

इसके चलते बाजार में नकली मास्क और सेनेटाइजर की खपत भी शुरू हो गई है। लोगों को नकली सेनेटाइजर के नाम पर लूटा जा रहा है, वहीं इनके दाम भी ज्यादा वसूले जा रहे हैं। इस बारे में लगातार शिकायतें मिलने पर प्रशासन ने शहरभर में मेडिकल स्टोरों पर दबिश दी। प्रशासनिक टीम ने रेलवे रोड, फ्रीगंज रोड, स्वर्ग आश्रम पर अभियान चलाकर कार्रवाई की। टीम ने मेडिकल स्टोर पर मास्क और सेनेटाइजर की जांच-पड़ताल की। मेडिकल स्टोर पर सेल और परचेज को परखा।

एसडीएम सत्यप्रकाश ने मेडिकल स्टोर संचालकों से निर्धारित रेट पर ही मास्क और सेनेटाइजर की बिक्री करने के निर्देश दिए। उन्होंने आदेशों की अवेहलना करने पर सख्त चेतावनी दी और कहा कि किसी भी हाल में कालाबाजारी बर्दाश्त नहीं की जाएगी। टीम में ड्रग्स इंस्पेक्टर लवकुश, एसएचओ अविनाश गौतम, पालिका राजस्व निरीक्षक सुनील सिंह सहित प्रशासनिक अफसर मौजूद रहे।

येँ भी पढ़ें  : अवैध रूप से हैंड सेनेटाइजर निर्माण: केस दर्ज

हापुड़ केमिस्ट एंड ड्रग्स्टिस वेलफेयर एसोसिएशन के महासचिव विकास गर्ग ने बताया कि कोई भी दवा विक्रेता मास्क और सेनेटाइजर बिल से ही खरीद-बिक्री कर रहा है। मेडिकल स्टोर पर किसी भी तरह की कालाबाजारी नहीं हो रही है। उन्होंने मांग की है कि शासन अपने स्तर पर एसोसिएशन पदाधिकारियों के साथ बैठक कर मास्क और सेनेटाइजर के रेट निर्धारित करे। उन्होंने नकली मास्क और सेनेटाइजर बेचने वालों के खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की मांग की।