केमिस्टों को 55 दवाओं का स्टॉक रखने के निर्देश

All chemists are directed to keep enough stock of 55 necessary drugs during Covid-19.

2997
Medicine
Picture: Pixabay

नई दिल्ली। देशभर में आठ लाख से ज्यादा केमिस्ट्स का प्रतिनिधित्व करने वाले रेगुलेटर ने उन 55 दवाओं का स्टॉक रखने को कहा है, जो एंटीबायटिक्स हैं। इसके अलावा इसमें कार्डियक की दवाएं भी शामिल हैं। इन दवाओं की जरूरत कोरोना वायरस की वजह से आईसीयू में भर्ती मरीज को हो सकती है। ऑल इंडिया ऑर्गनाइजेशन ऑफ केमिस्ट्स एंड ड्रगिस्ट्स ने सभी से कहा है कि वे अपने मेडिकल दुकानों में जरूरी दवाओं को जरूर रखें।

इन 55 दवाओं में ब्लड प्रेशर के इलाज के समय काम आने वाली एड्रेनालाईन, एट्रोलपाइन, एमियोडारोन, फेंटानिल, साल्बुटामॉल, सिप्लोफॉक्सिसीन, मेटरोनिडेजॉल आदि शामिल हैं। इसके अलावा एसोसिएशन ने अपने सदस्यों को तकरीबन 100 अन्य दवाओं को भी रखने को कहा है। इनमें पैरासीटामॉल, एमोक्सीलीन, इनसुलिन, एकीक्लोविर आदि शामिल हैं।

येँ भी पढ़ें  : अमेरिका ने भारत की 4 प्रमुख दवा कंपनियों को दी मंजूरी

जनरल सेक्रेटरी राजीव सिंघल ने कहा कि अभी हमारे पास एक महीने से अधिक समय तक के लिए स्टॉक मौजूद है। इससे पहले सेंट्रल ड्रग्स स्टैंडर्ड कंट्रोल ऑर्गनाइजेशन ने केमिस्ट और एसोसिएशन से कहा था कि इन दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित करने में मदद करने के लिए जरूरी कदम उठाएं।

To download the DCGI letter 16-04-20 along with list of 55 critical medicines for Covid-19, click here