मकान व निवार फैक्टरी से लाखो मास्क जब्त

Lakhs of masks recovered from a house and 'Niwaar' factory

812
Mask Pollution coronavirus Swine flu
Picture: Pixabay

भिवानी। जिला प्रशासन की टीम ने शहर के अंदर गली-मोहल्लों में नकली पीपीई किट और मास्क बनाने के कारोबार की शिकायत पर कई स्थानों पर दबिश दी। टीम ने शहर की बैंक कॉलोनी में एक घर से दो लाख से ज्यादा मास्क व कच्चा माल बरामद किया। इसके बाद टीम ने गांव हरिपुर में एक फैक्टरी का निरीक्षण किया। इस दौरान फैक्टरी के बाहर खड़ी गाड़ी में बोरो में भरी पीपीई किट और मास्क बरामद किए। पुलिस ने गाड़ी को कब्जे में ले लिया है। पुलिस ने सारा माल अपने कब्जे में ले लेकर धारा 188, 268 के तहत केस दर्ज किया है।

जानकारी अनुसार प्रशासनिक अधिकारियों की टीम निरीक्षण करने सबसे पहले बैंक कॉलोनी पहुंची और एक मकान से दो लाख से ज्यादा मास्क बरामद किए। इसके बाद गांव हरिपुर की एक निवार फैक्टरी में पहुंची। टीम को देख एक गाड़ी में माल भर रहे कारिंदे मौक से भाग गए और फैक्टरी को भी अंदर से बंद कर दिया। गाड़ी मास्क और पीपीई किट के बोरों से भरी हुई थी और कच्चा माल भी था।

येँ भी पढ़ें  : कोरोना को जाने – बार बार पुछे गए सवाल

टीम ने काफी प्रयासों के बाद फैक्टरी खुलवाई और मुआयना किया तो निवार बनाने की फैक्टरी में मास्क और नकली पीपीई किट का धंधा धड़ल्ले से चल रहा था। फैक्टरी मालिक ने खुद को फंसता देख वहां पर अन्य व्यापारियों को भी फोन कर बुला लिया और फिर विरोध शुरू कर दिया। वहां मौजूद व्यापारियों ने डीसी की ओर से इस कार्य की अनुमति दिए जाने की बातें कहीं। लेकिन कोई लिखित आदेश नहीं दिखा पाए।

डीएसपी हेडक्वार्टर भिवानी वीरेंद्र सिंह के अनुसार औद्योगिक पुलिस थाना की टीम ने उपायुक्त द्वारा गठित टीम के साथ बैंक कॉलोनी में छापामारी की है। वहां से माल बरामद हुआ है। इस संबंध में पुलिस ने 268, 188 के तहत केस दर्ज किया है। उधर, भिवानी जिला उद्योग केंद्र के महाप्रबंधक संदीप दांगी का कहना है कि उपायुक्त के निर्देश पर गठित कमेटी जांच के लिए मौके पर पहुंची है। घर के अंदर से मास्क बरामद हुए हैं। इसकी शिकायत पुलिस को दी है। इस संबंध में डीसी को भी रिपोर्ट दी जाएगी।