कौन से हैंड सैनिटाइजर्स इस्तेमाल करें?

Which hand sanitizer to use

346
Cosmetics Hand sanitizer
Picture: Pixabay
2 min. read

कौन से हैंड सैनिटाइजर्स इस्तेमाल करें?

कोरोना वायरस (Corona virus) महामारी के आने के हैंड सैनिटाइजर्स (Hand sanitizers) का प्रयोग एक दम से बढ़ गया है. महामारी की शुरुआत में हमारे देश में इतना हैंड सैनिटाइजर नहीं था कि लोगों को मांग को पूरा किया जा सके. इसके बाद देश की कई कंपनियां तरह-तरह के हैंड सैनिटाइजर बनाने लगीं और आज देश में इसकी बाढ़ सी आ गई है. वहीं हैंड सैनिटाइजर्स को लेकर WHO सहित दुनियाभर के हेल्थ एक्सपर्ट्स ने कहा है कि 60% एल्कोहल वाला हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग से कोरोना वायरस को फैलने से रोका जा सकता है.

ऑनली हेल्थ डॉटकाम की खबर के अनुसार इन दिनों मुनाफा कमाने के चक्कर में कुछ कंपनियां हैंड सैनिटाइजर्स में एल्कोहल के नाम पर ऐसी चीजें मिला रही हैं, जो खतरनाक और जानलेवा हैं. इस पर U.S. Food and Drug Administration (FDA) ने ऐसे हैंड सैनिटाइजर्स के इस्तेमाल के खिलाफ चेतावनी जारी की है. इन दिनों आप भी हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करते होंगे, ऐसे में सचेत हो जाएं और इन्हें खरीदने से पहले इसके पीछे यह जरूर पढ़ लें कि इसमें किस तरह के एल्कोहल की कितनी मात्रा है.

येँ भी पढ़ें  : तय रेट से ज्यादा दाम पर सैनेटाइजर बेचने पर दो गिरफ्तार:…

मेथनॉल वाले हैंड सैनिटाइजर्स क्यो खतरनाक हैं?

National Institutes of Health (NIH) का कहना है कि मेथनॉल एल्कोहल का एक ऐसा रूप है, जो बहुत ज्यादा जहरीला होता है. इसका इस्तेमाल रेसिंग गाड़ियों के ईंधन में और एंटीफ्रीज के तौर पर किया जाता है. मेथनॉल इतना खतरनाक होता है यह त्वचा पर लगाने पर त्वचा के भीतर जा सकता है और गंभीर मामलों में ये जानलेवा भी हो सकता है. जहरीला होने के कारण आपके पेट में जाने से यह नुकसान पहुंचा सकता है. इसको सूंघना भी खतरनाक है. इससे आपको ये नुकसान हो सकते हैं…

-चक्कर आना
-उल्टी आना
– सिर दर्द होना
– आंखों से धुंधला दिखाई देना
– हमेशा के लिए अंधापन
– शरीर में कंपकंपी
– कोमा में भी जा सकता है व्यक्ति
– नर्वस सिस्टम परमानेंट डैमेज हो सकता है
– व्यक्ति की मौत हो सकती है

कौन से हैंड सैनिटाइजर्स इस्तेमाल करें?

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) के अनुसार एथेनॉल (Ethanol) और आइसोप्रोपेनॉल (Isopropanol)- सिर्फ यही दो एल्कोहल ऐसे हैं, जो हैंड सैनिटाइजर के लिहाज से सुरक्षित है. WHO का कहना है कि सभी तरह के एल्कोहल ज्वलनशील होते हैं, यानी इनमें तुरंत आग पकड़ती है. इसलिए हैंड सैनिटाइजर का प्रयोग करने वाले व्यक्ति को सैनिटाइजर के प्रयोग के तुरंत बाद आग से दूर रहना चाहिए. खासकर ऐसे लोग जो धूम्रपान (Smoking) करते हैं, वो सैनिटाइजर्स के प्रयोग को लेकर जरूर सावधानी बरतें.

फर्जी दावों वाले सैनिटाइजर्स से रहें सावधान

FDA की रिपोर्ट में कहा गया है कि इन दिनों हैंड सैनिटाइजर को लेकर कई कंपनियां फर्जी दावे कर रही हैं. क्योंकि वो नकली प्रोडक्ट बेचकर ज्यादा मुनाफा कमाना चाहते हैं. FDA का कहना है कि अगर कोई सैनिटाइजर ऐसा दावा करता है कि उसका प्रोडक्ट इस्तेमाल के बाद 24 घंटे तक सुरक्षा देगा, तो ये दावा पूरी तरह निराधार है. फिलहाल हैंड सैनिटाइजर्स सिर्फ तत्काल प्रयोग करने पर ही कारगर पाया गया है.

The Health Master is now on Telegram. For latest update on health and Pharmaceuticals, subscribe to The Health Master on Telegram.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here