कोरोना: आयुर्वेदिक दवा के ट्रायल को मंजूरी

Corona: Approval for trial for ayurvedic medicine

249
Ayurvedic
Picture: Pixabay

वाराणसी। बीएचयू के चिकित्सा विज्ञान संस्थान की एथिकल कमेटी ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए आयुर्वेदिक औषधि के ट्रायल को मंजूरी दे दी है।

कोरोना के मरीज को दी जाने वाली औषधि पंचगव्य घृत, गोजिह्वादी क्वाथ, शिरीषादि क्वाथ, शुंठी चूर्ण तथा संजीवनी बटी तीन ग्रुपों के मरीजों को आयुर्वेद चिकित्सकों की देखरेख में दी जाएगी। ट्रायल के लिए सभी औषधियां बीएचयू पहुंच चुकी हैं। कुल दो सौ मरीजों को आयुर्वेदिक औषधि दी जाएगी।

येँ भी पढ़ें  : मेरठ में छापे में 25 लाख की नकली दवाइयां बरामद

इसके अलावा स्वस्थ लोगों को कोरोना से बचाव के लिए शुंठी का चूर्ण सुबह शाम चूसने तथा सूंघने के लिए दिया जाएगा। यह उन लोगों को दिया जाएगा, जिनके घर के किसी व्यक्ति को कोरोना हुआ है। 15 दिन तक दवा देने के बाद जांच होगी। इस शोध में फाइटोकेमिकल चेक के लिए आईआईटी के डा. सुनील कुमार मिश्र, स्टैटिक डाटा के लिए प्रो. टीबी सिंह, माइक्रोबायलाजी से डॉ. प्रद्युत प्रकाश को शामिल किया गया है।

यह कार्य कामधेनु आयोग के अध्यक्ष डॉ. वल्लभ भाई कठरिया की देखरेख मे चल रहा है। इस ट्रायल में न्यूरोलॉजी के विभागाध्यक्ष प्रो. आरएन चौरसिया, आयुर्वेद संकाय से डॉ. पीएस व्याडगी, प्रो. वाईबी त्रिपाठी, डॉ. ललित मीना, डॉ. केएन द्विवेदी, डॉ. एके द्विवेदी, डॉ. विश्वंभर सिंह तथा डॉ. सुशील शामिल हैं।

The Health Master is now on Telegram. For latest update on health and Pharmaceuticals, subscribe to The Health Master on Telegram.