Corona Positive व्यक्ति के संपर्क में आने पर करें ये 4 काम

Do these 4 things when you come in contact with a Corona Positive person

1330
Corona Virus

Corona Positive व्यक्ति के संपर्क में आने पर करें ये 4 काम

नई दिल्ली, Coronavirus Positive: भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों का आकड़ों 20 लाख के ऊपर पहुंच चुका है। जबकि करीब 11 लाख लोग इस बीमारी से उबर चुके हैं और 44,386 की जान जा चुकी है। पिछले दो महीनों में भारत में मामले तेज़ी से बढ़ रहे हैं, जिसकी एक बड़ी वजह कोरोना वायरस का सामुदायिक प्रसारण भी हो सकता है।   

हाल ही में, इंडियन मेडिकल असोसिएशन (IMA) ने कहा कि भारत में कम्यूनिटी ट्रांसमिशन यानी सामुदायिक प्रसारण शुरू हो चुका है। साथ ही ये भी कहा कि कोरोना के मामले अब कस्बों और गांवों में फैलना शुरू हो गए हैं, जहां स्थिति को नियंत्रित करना बेहद मुश्किल हो जाएगा। वहीं, सरकार ने सामुदायिक प्रसारण को नकारते हुए कहा कि भारत अभी इससे दूर है। हालांकि, इसके बावजूद आपके के लिए बचाव के तरीकों का अपनाना ज़रूरी है, क्योंकि अभी तक न तो इसका इलाज है और न ही वैक्सीन।

सभी आवश्यक सावधानी बरतने के बाद, भी ऐसा हो सकता है कि आप COVID-19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आएं और आपको भी ये बीमारी हो जाए, क्योंकि ज़्यादातर लोग अलक्षणी यानी Asymptomatic हैं। ऐसे में, अगर आप कोविड-19 पॉज़ीटिव व्यक्ति के संपर्क में आ जाते हैं, तो कुछ सावधानियां हैं जो आपको लेने की आवश्यकता है।

अपने आपको 10-14 दिनों के लिए क्वारंटाइन करें

अगर आप एक कोविड-19 पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आते हैं, तो सबसे पहले अपने आपको घर पर परिवार के सभी लोगों से कम से कम 14 दिनों के लिए अलग कर लें। यानी अलग कमरे में रहें, परिवार के बाकी लोगों से न मिलें। 

खुद पर नज़र रखें

आपको खुद पर नज़र रखने और यह जांचने की ज़रूरत है कि क्या आपको बुख़ार तो नहीं आ गया है, या सांस में तकलीफ, खांसी, स्वाद या गंध की कमी, गले में ख़राश, कंजेशन या बहती नाक, मितली, दस्त, और मांसपेशियों में दर्द जैसे लक्षण तो नहीं हैं।

साथ ही आपको दूसरों को सूचित करना भी ज़रूरी कि आप कुछ लोगों के संपर्क में आए जो जानलेवा संक्रमण के लिए पॉज़ीटिव पाए गए हैं। साथ ही उन्हें भी टेस्ट करवाने की सलाह दें अगर कोई लक्षण दिखाई दे रहा है। 

कोरोना वायरस का टेस्ट करवाएं

अगर आपको कोविड-19 से जुड़े कोई भी लक्षण महसूस होते हैं, तो आपको इसका टेस्ट ज़रूर करवाना चाहिए, ताकि समय रहते इसका इलाज हो सके। साथ ही आपको बता दें कि डॉक्टरों की सलाह है कि 5 से 7 दिनों बाद ही टेस्ट करवाना चाहिए।

The Health Master is now on Telegram. For latest update on health and Pharmaceuticals, subscribe to The Health Master on Telegram.