इन दवाओं से होने वाली एलर्जी के बारे में जरूरी जानकारी

Important information about allergies to these drugs

121
Medicine
Picture: Pixabay

इन दवाओं से होने वाली एलर्जी के बारे में जरूरी जानकारी

अक्सर लोग चिकित्सीय समस्याएं होने पर दवाओं (Medicines) का सेवन करते हैं, लेकिन दवाएं हर व्यक्ति पर एक जैसा असर नहीं दिखाती हैं. मतलब किसी व्यक्ति को दवाएं सही असर करती हैं, लेकिन किसी को साइड इफेक्ट्स (Side Effects) झेलने पड़ते हैं, इसलिए हर किसी को यह जानना जरूरी है कि यदि उन्हें किसी दवा से एलर्जी (Allergy) है तो उसे तुरंत लेना बंद कर देना चाहिए, क्योंकि इसके गंभीर परिणाम भी हो सकते हैं. आइए जानते हैं कि कुछ लोगों को दवाओं से एलर्जी क्यों होती है.

दवाओं से एलर्जी के कारण

यदि किसी दवा से एलर्जी हो रही है तो हो सकता है कि मरीज की रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर हो. कई बार शरीर की इम्युनिटी दवा के विपरीत असर कर सकती है. पहली बार में अधिकतर लोगों को दवा के थोड़े साइड इफेक्ट्स देखने को मिल सकते हैं.

कई बार कुछ लोगों के शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता ऐसी एंटीबॉडी बनाने लगती है, जो बाहरी तत्व को शरीर के लिए हानिकारक समझकर उसे नुकसान पहुंचाने का कार्य करती है. यह एंटीबॉडी एक प्रकार का प्रोटीन है, जो हर बाहरी तत्व को शरीर से निकाल फेंकने का कार्य करती है. ऐसे में दवा के इस्तेमाल पर उसका असर ठीक से नहीं हो पाता है और कुछ साइड इफेक्ट्स दिखने लगते हैं.

इन दवाओं से होती है एलर्जी

– एंटीबायोटिक (Antibiotic)
– नॉन एस्टरॉइड (Non steroid)
– एस्पिरिन (Aspirin)
– एंटी इंफ्लेमेटरी (Anti inflammatory)
– थायराइड ड्रग्स (Thyroid drugs)
– एंटी कन्वल्सेंट (Anti Convulsant)


स्वास्थ्य सम्बन्धी अन्य आर्टिकल पढने के लिए यहाँ क्लिक करे


दवाओं से एलर्जी के लक्षण

किसी दवा से एलर्जी होने पर कई तरह के लक्षण दिखाई दे सकते हैं. इन लक्षणों में सांस लेने में तकलीफ, बुखार, लाल चकत्ते, नाक बहना, आंखों में खुजली और आंखों से पानी आना शामिल है. यदि किसी दवा को लेने पर चक्कर, उल्टी आना, दस्त, बेहोशी की स्थिति होना आदि लक्षण दिख रहे हों, तो ऐसे में डॉक्टर से तुरंत परामर्श लेना चाहिए. डॉक्टर इस स्थिति में या तो उस दवा को बंद कर देंगे या फिर अन्य दवा से बदल देंगे.

दवाओं से होने वाली एलर्जी से कैसे करें बचाव

यदि पहले से कोई दवा ले रहे हों, तो इस बारे में भी डॉक्टर को जानकारी देना चाहिए, क्योंकि समय रहते जानकारी देने से दवा से होने वाले रिएक्शन से बचा जा सकता है. यहां तक कि जिन लोगों को पहले से एलर्जी है, उन्हें दवाइयां निर्धारित होने से पहले डॉक्टर को सूचित कर देना चाहिए. ध्यान रहे, कोई भी दवा डॉक्टर के परामर्श के बिना न लें.


अस्वीकरण : इस लेख में दी गयी जानकारी कुछ खास स्वास्थ्य स्थितियों और उनके संभावित उपचार के संबंध में शैक्षणिक उद्देश्यों के लिए है। यह किसी योग्य और लाइसेंस प्राप्त चिकित्सक द्वारा दी जाने वाली स्वास्थ्य सेवा, जांच, निदान और इलाज का विकल्प नहीं है। यदि आप, आपका बच्चा या कोई करीबी ऐसी किसी स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहा है, जिसके बारे में यहां बताया गया है तो जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करें। यहां पर दी गयी जानकारी का उपयोग किसी भी स्वास्थ्य संबंधी समस्या या बीमारी के निदान या उपचार के लिए बिना विशेषज्ञ की सलाह के ना करें। यदि आप ऐसा करते हैं तो ऐसी स्थिति में आपको होने वाले किसी भी तरह से संभावित नुकसान के लिए The Health Master जिम्मेदार नहीं होगा ।


The Health Master is now on Telegram. For latest update on health and Pharmaceuticals, subscribe to The Health Master on Telegram.

Click here to open form

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here