Oxygen cylinder को ज्यादा दिनों तक चलाने के लिए: Keep this in mind

ऑक्सीजन लेवल 88 से 92 के बीच रखा जाये. इसके साथ ही फिंगर पल्स रेट को 100% रखने के लिए बिल्कुल परेशान न हों

98
Medical Oxygen
Picture: Pixabay

Oxygen cylinder को ज्यादा दिनों तक चलाने के लिए: Keep this in mind

C-19 के मामले हर रोज़ बढ़ते ही जा रहे हैं (C-19 cases are increasing everyday) हाल ये है कि अस्पतालों में बेड नहीं हैं.

जिसके चलते लोग गंभीर रूप से बीमार मरीज़ों का इलाज (Treatment of critically ill patients) भी घर में ही करने को मजबूर हैं.

उस पर ऑक्सीजन की कमी ने लोगों को और भी ज्यादा परेशान कर दिया है. देश भर के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी (Oxygen deficiency in hospitals) देखी जा रही है.

ऐसे में बस एक ये उपाय है कि ऑक्सीजन को किसी तरह से बचाया जा सके. इसको बचाने के लिए कुछ टिप्स एमबीबीएस, एमडी, डॉक्टर कामना कक्कड़ ने अपने ट्विटर हेंडल के ज़रिये दिए हैं. आप भी जानें.

Oxygen
Picture: Pixabay

ऑक्सीजन लेवल 88 से 92 के बीच रखें

डॉक्टर कामना कक्कड़ के अनुसार इस बात का ध्यान रखें कि ऑक्सीजन लेवल 88 से 92 के बीच रखा जाये. इसके साथ ही फिंगर पल्स रेट को 100% रखने के लिए बिल्कुल परेशान न हों. इससे ऑक्सीजन सिलेंडर लंबा चलेगा.


स्वास्थ्य सम्बन्धी अन्य आर्टिकल पढने के लिए यहाँ क्लिक करे


ऑक्सीजन फेस मास्क को चेहरे पर अच्छे से फिट करें

मरीज़ का ऑक्सीजन फेस मास्क चेहरे पर अच्छी तरह से फिट रहे इस बात का भी ध्यान रखें. मास्क नाक या गाल पर बिल्कुल लूज़ न हो. उसी मास्क का इस्तेमाल करें जो मरीज़ के चेहरे पर अच्छी तरह से फिट हो सके.

मास्क नाक पर सील हो जाए इसके लिए नाक के पास लगी मेटल क्लिप को दबा दें. डोरी को भी अच्छी तरह से बांधे जिससे गाल की ओर से भी स्पेस न बचने पाए. इससे भी ऑक्सीजन सिलेंडर लंबा चल सकेगा.

खतरों के इन संकेतों पर निगाह रखें

इसके साथ ही खतरे के इन संकेतों पर भी आपको निगाह रखने की ज़रूरत होगी, जिससे आपको पता चल सकेगा कि मरीज़ खतरे में है और फ़ौरन अस्पताल जाने की ज़रूरत है.

ऑक्सीजन दिए जाने के बावजूद अगर मरीज़ को दिक्कत हो रही है, होंठ और जीभ काले पड़ रहे हैं, मरीज को बेहोशी छा रही है या मरीज को कुछ भी खाने-पीने में दिक्कत आ रही है.

अपना ऑक्सीजन लेवल अच्छा रखने के लिए ये करें

डॉक्टर कामना कक्कड़ ऑक्सीजन लेवल बेहतर रखने का तरीका भी शेयर किया है. उनके अनुसार C-19 के इस दौर में अपना ऑक्सीजन लेवल बेहतर रखने के लिए आपको प्रोन पोजीशनिंग का इस्तेमाल करना चाहिए.

सबसे पहले नाश्ता करिए फिर पीठ के बल 2 घंटे तक लेटे रहिये. फिर उसके बाद 2 घंटे तक पेट के बल लेटिये. अगर आप बीच में थक जाते हैं तो करवट लेकर लेट जायें.

इसके बाद लंच करें और इसी प्रक्रिया को दोहराएं. आप जितना पेट के बल लेटेंगे, उतना ही बेहतर रहेगा.


Also read:

Prone Position: ऑक्‍सीजन लेवल बढ़ाने के लिए उल्‍टा लेटना कितना फायदेमंद, जानें Experts की…

Pulse Oximeter: क्‍या है पल्‍स ऑक्‍सीमीटर डिवाइस: Let’s know

Immunity Booster Milk: इन्हें दूध में मिलाकर पिएं, तेजी से बढ़ेगी Immunity

Virus से बचाव के लिए हरियाणा आयुष विभाग ने बनाया Immunity Booster

C-19 vaccination की दूसरी डोज़ से जुड़े सवालों के जवाब: Lets know

Foods with milk: दूध के साथ ये चीजें खाना है घातक: Avoid them

Subscribe for daily free updates

Telegram
WhatsApp
Facebook
LinkedIn

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner