Covid से कर रहे हैं recovery तो डाइट में ये जरूर शामिल करें, जानें इसके benefits

जिन लोगों को कोरोना हो चुका है और वे रिकवरी प्रोसेस में हैं उन्‍हें डाइट में पनीर खाने की सलाह दी जा रही है

143
food Healthy food low cholesterol
Picture: Pixabay

कोरोना संक्रमण का दौर जारी है. लोग कोरोना से बचने के लिए हर संभव प्रयास कर रहे हैं. यही नहीं, संक्रमण से बचने के लिए बताए जा रहे खान पान और लाइफ स्‍टाइल को भी लोग फॉलो कर रहे हैं.

जिन लोगों को कोरोना हो चुका है और वे रिकवरी प्रोसेस में हैं उन्‍हें डाइट में पनीर खाने की सलाह दी जा रही है. दरअसल पनीर को सुपरफूड की कैटेगरी में रखा गया है जो कोरोना से रिकवरी में प्रोटीन की कमी को पूरा करता है.

यह हमारे बोन्‍स और मसल्‍स के साथ साथ हमारे ब्रेन के लिए भी बहुत ही फायदेमंद है. हेल्‍थशॉट्स के मुताबिक, यह कोरोना रिकवरी में काफी फायदेमंद साबित हो रहा है.


Protein के बारे में अन्य आर्टिकल पढने के लिए, यहाँ क्लिक करें


शरीर के लिए क्‍यों जरूरी है पनीर

कोरोना संक्रमण से रिकवरी के लिए शरीर को प्रोटीन की बहुत आवश्‍यकता होती है. प्रोटीन डैमेज टिशू को जल्‍दी ठीक करता है जिससे रिकवरी फास्‍ट होता है.

ऐसे में  पनीर प्रोटीन से भरपूर होता है और इसमें मौजूद अमीनो एसिड  खतरनाक पैथोजन से सुरक्षा प्रदान करता है. ऐसे में जो लोग रिकवरी प्रोसेस में हैं उन्‍हें रोजाना 75 से 100 ग्राम पनीर का सेवन जरूर करना चाहिए.

Corona Virus
Picture: Pixabay

कब खाएं पनीर

अगर आप चाहें तो पनीर का सेवन कभी भी कर सकते हैं लेकिन अगर आप इसे ब्रेकफास्‍ट और लंच से 1 घंटा पहले खाएं तो यह काफी फायदेमंद होगा. इसके अलावा, आप इसे रात को सोने से 1 घंटे पहले भी खा सकते हैं.

इससे आपको भरपूर एनर्जी मिलेगी और शरीर को जरूरत के हिसाब से प्रोटीन भी मिल पाएगा. इसे पचाना भी आसान होता है.

अत्‍यधिक पनीर भी खतरनाक

अगर आप जरूरत से ज्‍यादा पनीर खाएंगे तो यह आपके सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है. बता दें कि पनीर दूध से बना होता है जिसके अ‍धिक सेवन से कोलेस्‍ट्रॉल बढ़ने का खतरा हो सकता है.


स्वास्थ्य सम्बन्धी अन्य आर्टिकल पढने के लिए यहाँ क्लिक करे


पनीर के अन्‍य फायदे

पनीर में प्रोटीन के अलावा कैल्शियम, फॉस्फोरस, फोलेट, विटामिन डी जैसे न्यूट्रीएंट्स होते हैं जो बच्चों और बड़ों की सेहत के लिए बहुत ही फायदेमंद है.

इसमें मौजूद कैल्शियम और फॉस्फोरस हड्डियों के लिए जरूरी हैं और आर्थराईटिस जैसी बीमारियों के बचाव में सहायक है.

इसमें पाया जाने वाला सेलेनियम नामक एंटी ऑक्सीडेंट लंबे समय तक हेल्दी रखता है और बॉडी में एजिंग को स्लो करता है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. The Health Master इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)


Also read:

Improve Oxygen Levels: बॉडी में नैचुरल तरीके से बनाएं रखें ऑक्सीजन Level

Black Fungus & White Fungus: जानें दोनों में अंतर, दोनों के हैं अलग symptoms

Blood में Oxygen लेवल होगा सही, डेली खाएं ये Fruits

Chocolate: नींद नहीं आती तो खाएं ये खास चॉकलेट, बढ़ाएं immunity और energy भी

Vaccination के बाद भी लोग क्यों हो रहे हैं कोरोना के शिकार: ये है…

Black Fungus के बढ़ते मामलों के पीछे की क्या है वजह ? Let’s know

Subscribe for daily free updates on Telegram

Follow us on Facebook and Linkedin

For daily free updates on WhatsApp, click here

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner