Walking meditation: क्या है, कैसे करे, मिलते हैं कई फायदे: Must try

अगर नहीं तो बता दें कि वॉकिंग मेडिटेशन, नॉर्मल मेडिटेशन की तरह ही ध्यान लगाने की एक प्रक्रिया है

103
Health walking
Picture: Pixabay

Last Updated on August 21, 2021 by The Health Master

Walking meditation: क्या है, कैसे करे, मिलते हैं कई फायदे

Walking Meditation Health Benefits: मेडिटेशन (Meditation) के बारे में आपने कई बार सुना होगा और शायद किया भी होगा लेकिन क्या आपने कभी वॉकिंग मेडिटेशन (Walking meditation) के बारे में सुना या पढ़ा है?

अगर नहीं तो बता दें कि वॉकिंग मेडिटेशन, नॉर्मल मेडिटेशन की तरह ही ध्यान लगाने की एक प्रक्रिया है. इसकी खास बात ये है कि इसमें चलते हुए ध्यान लगाना होता है. आइए, जानते हैं इसके बारे में.

क्या है वॉकिंग मेडिटेशन

वॉकिंग मेडिटेशन में आपको टहलते हुए ध्यान लगाना होता है. इस दौरान आपको आपकी आंखें खुली रखनी होती हैं और अपने हर कदम पर फोकस करना होता है. साथ ही आस-पास के शोर को नजरअंदाज करना होता है.

कैसे करें वॉकिंग मेडिटेशन?

सबसे पहले आप आरामदायक कपड़े और जूते पहनें. किसी शांत वातावरण वाले साफ-सुथरे पार्क या बगीचे को चुनें, जहां शोर कम हो. वॉक का समय शुरुआत में केवल 5 मिनट का ही रखें.

वॉकिंग मेडिटेशन करने के लिए सबसे पहले आप अपने दोनों पैरों पर बराबर का वजन डालकर सीधे खड़े हो जाएं. इसके बाद लंबी सांस लें. चलने से पहले अपने पैरों  पर ध्यान केंद्रित करें और महसूस करें कि वो जमीन को छू रहे हैं.

अब चलना शुरू करें लेकिन ध्यान रखें कि बहुत तेजी से नहीं चलना है बल्कि छोटे-छोटे कदम रखते हुए धीरे-धीरे चलना है.

अपने कदमों के साथ श्वास को समन्वयित करें यानी सांस को लेने और छोड़ने के साथ कदमों का तालमेल बिठाएं. इस दौरान अपनी गर्दन, कंधों और पेट की मांसपेशियों को ढीला छोड़ दें.

अपने फोकस करने की क्षमता विकसित करें और इस दौरान अपनी आंखें खुली रखें. आपको बता दें कि इससे कई तरह के फायदे शरीर को होते हैं.

तनाव दूर होता और नींद अच्छी आती है

वॉकिंग मेडिटेशन करने से मांसपेशियों का तनाव कम होता है. साथ ही अनिद्रा की दिक्कत दूर होती है और नींद अच्छी आती है. साथ ही एकाग्रता भी बढ़ती है.

ब्लड शुगर लेवल और ब्लड सर्कुलेशन सही रहता है

वॉकिंग मेडिटेशन करने से ब्लड शुगर लेवल और ब्लड सर्कुलेशन सही रखने में मदद मिलती है. इस मेडिटेशन से टाइप 2 डायबिटीज से पीड़ित लोगों को काफी राहत मिलती है.

ड्रिप्रेशन दूर होता है

वॉकिंग मेडिटेशन करने से शारीरिक ही नहीं मानसिक तौर पर भी कई दिक्कतें कम होती हैं. इससे डिप्रेशन (Depression) की दिक्कत से धीरे-धीरे निजात मिलता है. साथ ही मूड बेहतर होता है और ब्लड प्रेशर भी सही रहता है.

पाचन क्रिया सही काम करती है

पाचन क्रिया को सही रखने में भी वॉकिंग मेडिटेशन मदद करता है. इससे पेट में गैस, अपच, कब्ज जैसी दिक्कत भी दूर होती हैं. साथ ही भोजन को पचने में भी काफी  मदद मिलती है.विज्ञापन

एकाग्रता और संतुलन बढ़ता है

वॉकिंग मेडिटेशन करने से एकाग्रता और संतुलन को बढ़ने में भी मदद मिलती है. साथ ही पैरों, एड़ियों और तलवों में होने वाला दर्द भी धीरे-धीरे कम होने लगता है. 

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य मान्यताओं पर आधारित हैं. The Health Master इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

Vitamin C Tablets के ये 5 फायदे आपको जरूर जानने चाहिए:…

Why to prefer organic emulsifiers over traditional ones ?

Mood swings: बार बार mood बदल रहा हैं, इन 5 तरीको से करे कंट्रोल:…

Oil pulling: क्या है, शरीर के लिए कैसे है ये फायदेमंद, कैसे करते है:…

Dust Allergy: डस्ट एलर्जी समस्या दूर करने के लिए अपनाएं ये 5 तरीके: Must…

Oily Food Side Effect: बचने के लिए ये 5 काम करें: Must know

Telegram
WhatsApp
Facebook
LinkedIn
Google-news

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner