Sleep disorder: क्या है चेतावनी संकेत, Lets know

यदि यह लंबे वक्त तक यह चलता रहता है, तो यह स्लीप डिसऑर्डर (Sleep Disorder) में बदल जाता है. इससे पहले कि बहुत देर हो जाए.

133
Health sleep
Picture: Unsplash

Last Updated on March 27, 2021 by The Health Master

Sleep disorder: क्या है चेतावनी संकेत, Lets know

Warning Signs Of Sleep Disorderनींद से जुड़ी परेशानियां बहुत ही आम मुद्दों में से एक है जिनका लोग अक्सर सामना करते हैं. हमारी व्यस्त जिंदगी की वजह से हम अक्सर जल्दी सो नहीं पाते हैं और साउंड स्लीप यानी अच्छी नींद नहीं ले पाते हैं.

यदि यह लंबे वक्त तक यह चलता रहता है, तो यह स्लीप डिसऑर्डर (Sleep Disorder) में बदल जाता है. इससे पहले कि बहुत देर हो जाए.

इस डिसऑर्डर के चेतावनी संकेतों (Warning Signs) पर ध्यान देना जरूरी है, ताकि तुरंत डॉक्टर से संपर्क साध कर इसका वक्त पर इलाज किया सके. 

Sleep Health
Picture: Pixabay

आज यहां आपको इन संकेतों के बारे में बता रहे हैं.

स्लीप डिसऑर्डर चेतावनी संकेत:  

1. आप लगातार रोज नींद में जाने के लिए 30 मिनट से अधिक का वक्त ले रहे हैं

2. आपको 7-8 घंटे की नींद लेने के बाद भी थकान या चिड़चिड़ापन बना रहता है.

3. रात में आप कई बार जग जाते हैं या कई बार आपकी नींद टूट जाती है.

4. आपको दिन के दौरान लगातार या लंबे वक्त तक झपकी लेने की जरूरत महसूस होती है.

5. आप टीवी देखते हुए या संगीत सुनते हुए आसानी से सो जाते हैं.

6. आप नींद में लंबे वक्त तक खर्राटे लेते हैं और आपके सांस लेने की आवाजें होती रहती हैं

7. आपको दिन में जगे रहने के लिए कैफीन जैसे उत्तेजक पदार्थ की जरूरत महसूस होती है.


स्वास्थ्य सम्बन्धी अन्य आर्टिकल पढने के लिए यहाँ क्लिक करे


स्लीप डिसऑर्डर का निदान: 

नींद की समस्या का निदान (Diagnosis) करने के लिए पहला कदम है कि एक डायरी लेकर उसमें आप अपनी नींद की क्वालिटी का पूरा ट्रैक रखें.

इसमें आप अपनी रोज की नींद के पैटर्न को लिखें मसलन लंबे वक्त तक ली गई नींद, सोने और जागने का समय और ऐसे कोई भी कारक जो आपकी नींद की क्वालिटी को प्रभावित कर सकते हैं जैसे कैफीन, शराब, एक्सरसाइज, आदि इन चीजों को ट्रैक करें और डायरी में हर चीज का रिकॉर्ड रखें.

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner

इससे आपको इस परेशानी के लिए अपने डॉक्टर से परामर्श करने में मदद मिल सकती है. आपका डॉक्टर आपकी डेली लाइफ से संबंधित कई सवाल पूछ सकता है. ऐसे में यह डायरी आपको उन सवालों का जवाब देने के लिए गाइड करेगी.


Also read more articles on Sleep:

Positive news for Sleep-deprived: Ayurveda

Herb that helps you sleep well

What happens if you sleep more than 9 hours

Feeling Lethargic? 5 Ways to Beat Fatigue


स्लीप डिसऑर्डर की वजहः 

नाक और साइनस की सूजन,दमा, हाई ब्लड प्रेशर,पार्किंसंस की बीमारी, क्लिनिकल डिप्रेशन, चिंता, पुअर स्लीप पैटर्न,खराब लाइफस्टाइल,अत्यधिक तनाव,खराब आहार जैसे कुछ कारण हैं जो आपको स्लीप डिसऑर्डर का शिकार बनाने के लिए जवाबदेह हो सकते हैं.

स्लीप डिसऑर्डर के टाइपः 

स्लीप डिसऑर्डर भी कई तरह का होता है जैसे-अनिद्रा (Insomnia), रेस्टलेस लेग्स सिंड्रोम (Restless Legs Syndrome), स्लीप एप्निया (Sleep Apnea),नार्कोलेप्सी (Narcolepsy), सर्केडियन रिदम स्लीप डिसऑर्डर (Circadian Rhythm Sleep Disorder), क्लेन-लेविन सिंड्रोम (Kleine-Levin Syndrome) और इडियोपैथिक हाइपरसोमनिया (Idiopathic Hypersomnia).

हम यहां पर आपको यही सुझाव देंगे कि यदि आपको लंबे समय तक नींद न आने की समस्या बनी रहती है, तो बिना किसी देरी के तुरंत डॉक्टर के पास जाएं.


Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. The Health Master इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.


Also read:

The right way to take medication

Blood Pressure Reading Time: BP चेक करने का ये है right…

Ultrasound करवाने से पहले और बाद में इन 4 बातों का…

Fitness formula: after the age of 50

Dash diet: वजन घटाने और ब्लड प्रेशर कंट्रोल करने के लिए…

What is wrong with your kidneys: Be careful with these symptoms

For informative videos by The Health Master, click on the below YouTube icon:

YouTube Icon
Telegram
WhatsApp
Facebook
LinkedIn
YouTube Icon
Google-news

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner