Migraine: माइग्रेन एक बड़ी समस्या, इन 4 चीजों को करें अपनी डाइट में Add

अगर जीवन शैली बेहतर की जाए और खाने के कॉम्‍बीनेशन को ठीक रखा जाए तो माइग्रेशन के दर्द को कम किया जा सकता है.

136
Stress Health Woman people
Picture: Pixabay

Last Updated on July 16, 2021 by The Health Master

Migraine: माइग्रेन एक बड़ी समस्या

माइग्रेन (Migraine) एक प्रकार का सिर दर्द है जिसमें सिर के एक तरफ पल्‍स सेंसेशन की वजह से सीवियर दर्द (Severe Headaches) होता है. इसकी वजह से कई लोगों को चक्‍कर आना, कमजोरी, उल्‍टी आना, तेज रौशनी में परेशानी आदि की समस्‍या होती है.

कई बार तो माइग्रेन अटैक आने पर दो दिनों तक सिर में दर्द का अनुभव होता है जो असहनीय है. हालांकि इसका कोई इलाज नहीं लेकिन कुछ मेडिकेशन की मदद से दर्द में कुछ राहत मिल सकती है. मायोक्‍लीनिक के मुताबिक, विशेषज्ञों का कहना है कि अगर जीवन शैली बेहतर की जाए और खाने के कॉम्‍बीनेशन को ठीक रखा जाए तो माइग्रेशन के दर्द को कम किया जा सकता है.

बता दें कि कुछ फूड आइटम्स हैं जो माइग्रेन को ट्रिगर करते हैं जबकि ऐसे भी कुछ फूड (Food) आइटम्स हैं जो उन्हें रोकने में मदद कर सकते हैं. हालांकि ये स्‍थाई रूप से माइग्रेन को दूर नहीं करते लेकिन दर्द के प्रभाव को कम करने में प्रभावी होते हैं.

बता दें कि माइग्रेन एक न्यूरोलॉजिकल स्थिति है जो तनाव और हार्मोन जैसे कारणों से होता है. तो आइए यहां जानते हैं कि माइग्रेन से पीड़ित लोगों को अपने डाइट में किन फूड आइटम्स को शामिल करना चाहिए.

Health Brain
Picture: Pixabay

इन 4 चीजों को करें अपनी डाइट में Add

1.सैल्मन फिश

माइग्रेन के दर्द में ओमेगा-3 फैटी एसिड वाली फैटी फिश काफी फायदेमंद होती है. इसके सेवन से माइग्रेन को ट्रिगर करने से रोका जा सकता है.

2.ड्राई नट्स

ड्राई नट्स में भरपूर मात्रा में मैग्नीशियम और पोषक तत्व पाए जाते हैं. इसके अलावा इसमें न्यूट्रिएंट्स की भी कमी नहीं होती. इनके रेग्‍युलर प्रयोग से माइग्रेन को कंट्रोल किया जा सकता है. आप स्‍नैक्‍स के रूप में बादाम, काजू, अखरोट और कद्दू के बीज जैसे मेवे को रख सकते हैं और खा सकते हैं.

3.हरी सब्जियों का प्रयोग

माइग्रेन के लिए हरी और पत्तेदार सब्जियां खास तौर से पालक बहुत ही फायदेमंद होती हैं. पालक फोलिक एसिड और विटामिन बी के साथ-साथ मैग्नीशियम का एक अच्छा सोर्स होता है जो माइग्रेन से लड़ने में सहायक है.

4.भरपूर पानी का सेवन

माइग्रेन के दर्द से निपटने के लिए खुद को हाइड्रेट रखना बहुत ही जरूरी है. रोजाना कम से कम 8-10 गिलास पानी पीना जरूरी है.

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं. The Health Master इनकी पुष्टि नहीं करता है. इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें.)

6 reasons: How Gel creams are different from traditional cold creams

3 Tips: How to choose your Personal Care products

Changes in Skincare trends during the Pandemic

Uric Acid: बढ़ने से हो सकती हैं ये गंभीर समस्‍याएं, ऐसे कम करे: Must…

Heart attack: This blood group is at a higher risk: Study

Kidney के लिए खतरनाक है ये 5 आदतें: Change today only

Subscribe for daily free updates

Telegram
WhatsApp
Facebook
LinkedIn

Enter your email address:

Delivered by FeedBurner